Tuesday, March 28, 2023
Google search engine
HomeBusinessटेलीकॉम सेक्टर में अडानी की एंट्री से घबराये अंबानी

टेलीकॉम सेक्टर में अडानी की एंट्री से घबराये अंबानी

अभी कुछ महीनों पहले गौतम अडाणी ने बिजनेस टाइकून मुकेश अंबानी से भारत के साथ-साथ एशिया के सबसे अमीर शख्स का ताज छीना है. गौतम अडाणी के अडाणी ग्रुप ने हाल ही सीमेंट के कारोबार में भी कदम रखा था और तो और इसके बाद कंपनी ने पहली बार टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री मारने की घोषणा कर दी. कंपनी ने हाई-स्पीड 5G Spectrum की नीलामी में बोली लगाई है. ऐसे में अडाणी ग्रुप ने पिछले कुछ वक्त में काफी हलचलें पैदा की हैं. ऐसे में एक रिपोर्ट की मानें तो अडाणी की ओर से टेलीकॉम सेक्टर को लेकर की गई घोषणा के बाद रिलायंस इंडस्टी के सामने दुविधा खड़ी हो गई थी.

अंबानी कैंप हाई अलर्ट पर

दिलचस्प है कि अंबानी की रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड जहां देश में मोबाइल नेटवर्क बाजार की सबसे बड़ी हिस्सेदार है, वहीं अडाणी ग्रुप टेलीकॉम सेक्टर में अभी है भी नहीं. उनके पास वायरलेस टेलीकम्युनिकेशन सेवाएं देने के लिए लाइसेंस भी नहीं है. नाम ना जाहिर करने की शर्त पर मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि इस विचार ने भी कि अडाणी अपना नया लक्ष्य अंबानी की महत्वाकांक्षाओं के इतने करीब रख रहे हैं, अंबानी कैंप को हाई अलर्ट पर आने को मजबूर कर दिया.

कुछ सहयोगियों ने अंबानी को सलाह दी कि उन्हें विदेशी बाजारों के लक्ष्य की ओर नजरें करनी चाहिए और भारतीय बाजारों के परे जाकर विस्तार करना चाहिए. वहीं, दूसरे सहयोगियों ने कहा कि उन्हें घरेलू मैदान पर पैदा होने वाली चुनौतियों के लिए फंड बचाकर रखना चाहिए.

फिर अंबानी ने लिया यह फैसला

सूत्रों ने बताया आखिरकार मुकेश अंबानी ने किसी विदेशी कंपनी में पैसे न लगाने का फैसला किया, क्योंकि उन्हें लगा कि अगर अडाणी की ओर से उनके लिए कोई चुनौती पैदा होती है, तो उनके पास ऐसी स्थिति के लिए अपनी वित्तीय क्षमताएं तैयार होनी चाहिए. इस डर को आधारहीन या अतिशयोक्ति बताकर खारिज भी नहीं कर सकते क्योंकि Bloomberg Billionaires Index के डेटा की मानें तो अडाणी के नेटवर्थ में इस साल दुनियाभर में किसी भी दूसरी शख्सियत से ज्यादा बढ़ोतरी हुई है.

पिछले दो दशकों से देश के दो सबसे अमीर बिजनेस टाइकून अलग-अलग टर्फ पर खेलते रहे हैं, लेकिन ऐसा पहली बार है, जब वो किसी सेक्टर में एक साथ होंगे, साथ ही एक दूसरे के लिए चुनौतियां पैदा करने की स्थिति में होंगे.

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular